कुछ इस हालत में पकड़े गए देवर और भाभी… 8 वर्ष तक पति को नहीं थी भनक

2,136

वो कहते है न की प्यार में रंग रूप नहीं दिखता। कुछ लोग इसे इतना सच मान लेते है की रिश्तों का लिहाज भी नहीं रहता उन्हें। दरअसल एक भाभी और देवर के बिच इश्क़ का मामला आया है सामने। भोवापुर नमक गांव की इस लड़की का विवाह तकरीबन 8 साल पहले कनौजा गांव में रहने वाले एक युवक के साथ हुआ। लड़की को विवाह के 2 महीने बाद ही अपने देवर से इश्क़ हो गया।

दोनों भाभी देवर अपना दिल एक दुसरे को दे बैठे। आपको यह जानकार अत्यंत हैरानी होगी की पति को आठ साल तक भी इनके प्रेम की भनक नहीं पड़ी। अचानक एक दिन कुछ ऐसा हुआ कि दोनों शर्मनाक हरकत करते समय रंगे हाथ पकड़े गए और सालों से चले आ रहे उनके इश्क़ का पर्दा फाश हो गया। पति को पत्नी की शर्मनाक हालत देखते हुए इतना गुस्सा आया की दोनों के बीच हाथापाई हो गई।

बात खुलने पर पत्नी ने देवर के साथ विवाह करने का प्रस्ताव रखा और मंज़ूरी न मिलने पर वह मुँह फुलाए अपने मायके चली गई। उसने शर्त राखी की देवर से शादी के लिए हाँ होने पर ही वह ससुराल लौटेगी। जब भाभी-देवर को कोई रास्ता नहीं दिखा तो दोनों फरार हो गए। ऐसा सुनने में आया की दोनों विवाह किये बिना ही महिला के 2 बच्चों के साथ एक किराये के घर में रह रहे थे। पति और सास ससुर ने महिला को घर आने के लिए बहुत बार मनाया और फिर पुलिस में शिकायत दर्ज करवा दी।

पुलिस ने उनसे पूछताछ करके उन्हें छोड़ दिया तो पति ने अपने बच्चों की मांग की। देवर ने दोनों बच्चों को अपनी औलाद बताते हुए भाई को वह से रफा दफा होने को कहा। इसी बिच भाई ने पत्नी से फिर मार पीट की। इन सब से तंग होकर देवर और भाभी ने ज़हर खा लिया और आत्महत्या करने की कोशिश की।

क्या कहेंगे आप ऐसे इश्क़ को?

Loading...